Your remedy saved my job

[4:22 PM, 2/8/2018] Meera: Thank u so much sir [4:22 PM, 2/8/2018] Meera: Your remedy saved my job

Energized Sphatik Bracelet Costs 1000 rs.

Energized Sphatik Bracelet Costs 1000 rs.
It enhances energy by absorbing, storing, amplifying, balancing, focusing and transmitting. Sphatik is a stone of clarity and dispels negativity. … Bracelet made from Sphatik crystal gives concentration, cools the body, and calms the mind. Sphatik Bracelet brings down the body heat of the person wearing it.

जब सूर्य, पृथ्वी और चन्द्रमा एक सीधी रेखा में आ जाते है तो यह खगोलीय घटना चंद्र ग्रहण कहलाती है

जब सूर्य, पृथ्वी और चन्द्रमा एक सीधी रेखा में आ जाते है तो यह खगोलीय घटना चंद्र ग्रहण कहलाती है। चंद्र ग्रहण का ज्योतिष में बड़ा ही महत्तव है। जिस दिन ग्रहण रहता है, उस दिन ग्रहण के समय से 9 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाता है। ज्योतिष के अनुसार ग्रहण वाले दिन कुछ खास उपाय किए जाए तो कुंडली के दोषों को दूर किया जा सकता है। ध्यान रखें सूतक काल में पूजा-पाठ नहीं करना चाहिए, इसीलिए पूजा-पाठ से संबंधित उपाय सूतक से पहले करना चाहिए।

चंद्र ग्रहण वाले दिन ध्यान रखना चाहिए ये बातें
सूतक के समय और ग्रहण के समय भगवान की मूर्ति का स्पर्श नहीं करना चाहिए। इस दिन भगवान के नाम का जाप करते हुए दान करना चाहिए। पवित्र नदी में स्नान, हवन आदि कर्म करने से पुराने पाप नष्ट होते हैं और किस्मत का साथ मिल सकता है।

राशि अनुसार चंद्र ग्रहण के उपाय।

1. मेष- मेष राशि के लोगों को परेशानियों से बचने के लिए मंगल से संबंधित वस्तु जैसे गुड़ और मसूर की दाल का दान करना चाहिए।

2. . वृषभ- वृष राशि के लोग मानसिक तनाव को दूर करने के लिए इस दिन श्री सूक्त का पाठ करें और मंदिर में अन्न दान करें।

3. मिथुन- मिथुन राशि के लोग बीमारियों को और गरीबी को दूर करने के लिए गाय को पालक या हरी घास खिलाएं, किसी गौशाला में धन का दान करें।

4. कर्क- जिन लोगों की राशि कर्क है, उन्हें इस दिन सूतक से पहले शिवजी की विशेष पूजा करनी चाहिए। ऊँ सों सोमाय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए।

5. सिंह- इस राशि के लोगों को क्रोध जल्दी आता है। इन्हें क्रोध पर काबू पाने के लिए इस दिन गायत्री मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए। दान करें।

6. कन्या- धन संबंधी कामों की परेशानियों को दूर करने के लिए किसी किन्नर को हरी चूड़ियां दान करें। गाय को पालक खिलाएं।

7. तुला- चंद्र ग्रहण वाले दिन सूतक से पहले श्री सूक्त का पाठ करें। अन्न का दान करें।

8. वृश्चिक-मानसिक तनाव दूर करने के लिए हनुमानजी के सामने घी का दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

9. धनु- पैसों से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए श्री विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करें। गाय फल खिलाएं।

10. मकर- जिन लोगों की राशि मकर है, उन्हें बीमारियों से बचने के लिए सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए। काले तिल का दान करें।

11. कुंभ- चंद्र ग्रहण वाले दिन सूतक से पहले हनुमान चालीसा का पाठ करें। काली उड़द का दान करें।

12. मीन-इस राशि के लोग सूतक से पहले भगवान विष्णु की पूजा करें और गरीबों को केले बाटें।

खग्रास चन्द्रग्रहण – 31 जनवरी 2018 (भूभाग में ग्रहण समय – शाम 5.17 से रात्रि 8.42 तक) (पूरे भारत में दिखेगा, नियम पालनीय ।)

 

खग्रास चन्द्रग्रहण – 31 जनवरी 2018
(भूभाग में ग्रहण समय – शाम 5.17 से रात्रि 8.42 तक) (पूरे भारत में दिखेगा, नियम पालनीय ।)

चन्द्रग्रहण बेध (सूतक) का समय
सुबह 8.17 तक भोजन कर लें ।

बूढ़े, बच्चे, रोगी और गर्भवती महिला आवश्यकतानुसार दोपहर 11.30 बजे तक भोजन कर सकते हैं । रात्रि 8.42 पर ग्रहण समाप्त होने के बाद पहने हुए वस्त्रोंसहित स्नान और चन्द्रदर्शन करके भोजन आदि कर सकते हैं ।

ग्रहण पुण्यकाल
जिन शहरों में शाम 5.17 के बाद चन्द्रोदय है वहाँ चन्द्रोदय से ग्रहण समाप्ति (रात्रि 8.42) तक पुण्यकाल है ।

जैसे अमदावाद का चन्द्रोदय शाम 6.21 से ग्रहण समाप्त रात्रि 8.42 तक पुण्यकाल है ।

शहरों का स्थान और चन्द्रोदय
नीचे कुछ मुख्य शहरों का चन्द्रोदय दिया जा रहा है उसके अनुसार अपने-अपने शहरों का ग्रहण के पुण्यकाल का जानकर अवश्य लाभ लें ।

इलाहाबाद (शाम 5.40), अमृतसर (शाम 5.58), बैंगलुरू (शाम 6.16), भोपाल (शाम 6.02), चंडीगढ़ (शाम 5.52), चेन्नई (शाम 6.04), कटक (शाम 5.32), देहरादून (शाम 5.47), दिल्ली (शाम 5.54), गया (शाम 5.27), हरिद्वार (शाम 5.48), जालंधर (शाम 5.56), कोलकत्ता (शाम 5.17), लखनऊ (शाम 5.41), मुजफ्फरपुर (शाम 5.23), नागपुर (शाम 5.58), नासिक (शाम 6.22), पटना (शाम 5.26), पुणे (शाम 6.23), राँची (शाम 5.28), उदयपुर (शाम 6.15), उज्जैन (शाम 6.09), वड़ोदरा (शाम 6.21), कानपुर (शाम 5.44)
(इन दिये गये स्थानों के अतिरिक्तवाले अधिकांश स्थानों में पुण्यकाल का समय लगभग शाम 5.17 से रात्रि 8.42 के बीच समझें ।)

ग्रहण के समय पालनीय

(1) ग्रहण-वेध के पहले जिन पदार्थों में कुश या तुलसी की पत्तियाँ डाल दी जाती हैं, वे पदार्थ दूषित नहीं होते ।
जबकि पके हुए अन्न का त्याग करके उसे गाय, कुत्ते को डालकर नया भोजन बनाना चाहिए ।

(2) सामान्य दिन से चन्द्रग्रहण में किया गया पुण्यकर्म (जप, ध्यान, दान आदि) एक लाख गुना । यदि गंगा-जल पास में हो तो चन्द्रग्रहण में एक करोड़ गुना फलदायी होता है ।

(3) ग्रहण-काल जप, दीक्षा, मंत्र-साधना (विभिन्न देवों के निमित्त) के लिए उत्तम काल है ।

(4) ग्रहण के समय गुरुमंत्र, इष्टमंत्र अथवा भगवन्नाम जप अवश्य करें, न करने से मंत्र को मलिनता प्राप्त होती है ।

Padmaavat Emerges Blockbuster (3,6,9) is family of no.

Padmaavat poster.jpg

Padmaavat Emerges Blockbuster
(3,6,9) is family of no.
Sanjay Leela Bhansali is no.6 (24 February)
Ranveer Singh is no.6 (6 July 1985) running in his most lucky 33rd(6) year winning accolades from all over
Deepika Padukone was born on 5 January so she is no.5 which is also compatible with 3 & 6
Title Padmaavat adds to 30(3) which is also compatible with crew of film
Release Date was 24th(6) Jan. paid previews were held on 24th jan night so release date is also very much compatible with title

Buy Lab Tested Rare Twenty One Mukhi Rudraksha ₹ 30 lac 21 mukhi rudraksh original 30 Lakh Rs.

Buy Lab Tested Rare Twenty One Mukhi Rudraksha ₹ 30 lac
21 mukhi rudraksh original 30 Lakh Rs.
Only 1 Piece Available So Order Fast ,First Come First Serve

Twenty one mukhi Rudraksha is ruled by the custodian of wealth Lord Kuber. He is the Lord of Yakshas and a devotee of Lord Shiva. He is also known as Dhanapati (Lord of Riches). Kubera is the trustee of all wealth and food grains and blesses the wearer of 21 mukhi with immense prosperity and fulfillment of pleasures and materialistic desires. Even if a poor person wears it, he becomes rich. There is never lack of anything in the wearer’s life.

Significance:

It brings immense prosperity and good luck.
It brings Oneness in the wearer’s life with support from the world.
The wearer of this bead is blessed with name, fame and abundance.

Benefits:

It brings pleasures and fulfillment of materialistic desires of the wearer.
It makes body healthy and free from diseases.

Therapeutic Benefits:

It gives relief from stress and depression.
It also alleviates Anxiety.
Mantra:

\"Om Yakshaya Kuberaya Vaishravanaya Dhana-Dhanyadi\"

Super Powerful Golden Master Oorjaa Enhancer Costs 25000 Rs. Discounted Price 21000 Rs. Great Engineering Work 3D Design Brings financial upliftment, health care,peace of mind

Super Powerful Golden Master Oorjaa Enhancer Costs 25000 Rs.
Discounted Price 21000 Rs.
Great Engineering Work
3D Design
Brings financial upliftment, health care,peace of mind
Light small tool ,very handy
Lifetime tool with manifold results 
45 times more powerful than any other pyramid tool 
Reduces electromagnetic radiation coming out of WiFi ,mobile,and microwave
Finishes geopathic stress
Brings alignment of nature
Clutter removal, detoxification of people living there.
It gives results through it's inherent power to all possessor.
Put anywhere aligning north south
If alignment is not possible then also it works
Can keep in office & home both
Fit it and forget it. it will be working for you 24×7 for you
Material is polymer with inclusion of gold silver and copper
Master of all products